जयपुर। अन्तर्राज्जीय जल वितरण विवाद समीक्षा कमेटी के अध्यक्ष रोहिताश्व शर्मा ने कहा है कि मैंने पहले ही कहा था कि नोटंकीबाज सांगानेर विधायक घनश्याम तिवाडी घड़ी-घड़ी ड्रामा करते हैं। जनता में जीरो हो चुके तिवाड़ी ने मीडिया में हीरो बनने के लिए आज भी ड्रामा ही किया। लेकिन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार नहीं कर उनके सपनों पर पानी फेर दिया।

पुलिस ने तो सिर्फ उन्हें मुख्यमंत्री आवास नहीं जाने दिया जहां धारा 144 लगी हुई थी। शर्मा ने कहा है कि ये सब ड्रामेबाजी वे इसलिए कर रहे हैं ताकि उनकी अकूत सम्पत्ति का मुद्दा दब जाए। लेकिन आज भी जनता जानना चाहती है कि उनके पास वो कौनसा पारस पत्थर है जिससे वे घनश्याम से धन-श्याम बनेे? एक माह से मैं और राजस्थान की जनता उनसे सवाल कर रही है कि जब वे जयपुर में आए थे तब उधारी की एक टूटी जंग लगी साइकिल पर घूमते नजर आते थे। वे बताएं कि टूटी जंग लगी साइकिल से चमचमाती ओडी कार, अरबों रुपयों की जमीन और कई आलीशान बंगले तक का सफर उन्होंने किस जादू के चलते पूरा किया। क्या कांग्रेस के एक जादूगर नेता ने उन्हें ये गुर सिखाए, जिनके इशारे से वे बीजेपी को जड़ से मिटाने का अफसल प्रयास कर रहे हैं।

कोई जवाब दें