Hardik Patel

अहमदाबाद: गुजरात कांग्रेस के एक नेता ने अपने बयान से विवाद पैदा कर दिया है कि पाटीदार आरक्षण आंदोलन का नेतृत्व कर रहे हार्दिक पटेल में ‘‘सरदार पटेल जैसा डीएनए है।’’ भाजपा ने बयान की निंदा करते हुए कहा कि तुलना करना स्वतंत्र भारत के पहले उप प्रधानमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल का अपमान है जिन्हें ‘‘लौह पुरुष’’ के नाम से भी जाना जाता है।

सरदार पटेल के एक रिश्तेदार ने भी कहा कि दोनों की तुलना नहीं की जा सकती क्योंकि सरदार पटेल ने ‘‘देश की एकता’’ के लिए काम किया जबकि हार्दिक ‘‘बांटने’’ का काम कर रहे हैं। गुजरात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शक्ति सिंह गोहिल ने कल संवाददाताओं से कहा था कि राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा का सामना करने में हार्दिक का सतत् और सही रूख दर्शाता है कि उनमें ‘‘सरदार पटेल का डीएनए’’ है, जिसे अंग्रेजों द्वारा तोड़ा या दबाया नहीं जा सका।

सोशल मीडिया पर पाटीदार नेता का सेक्स क्लिप आने के बाद उन्होंने कहा था, ‘‘हार्दिक पटेल अपने समुदाय के खिलाफ अन्याय की लड़ाई लड़ रहे हैं जिसे (भाजपा प्रमुख) अमित शाह के करोड़ों रुपये से भी नहीं खरीदा जा सका और महीनों जेल में बंद रखे जाने के बावजूद उसे नहीं तोड़ा जा सका।’’ गोहिल ने कहा था, ‘‘उनमें सरदार पटेल का डीएनए है जिसे अंग्रेजों द्वारा भी नहीं खरीदा या तोड़ा जा सका। इसी तरह भाजपा हार्दिक को न तो खरीद सकती है न ही डरा सकती है।’’ भाजपा नेता मनसुख मंडाविया ने गोहिल के बयान पर कहा कि हार्दिक की सरदार पटेल से तुलना लौह पुरुष, गुजरात और देश का अपमान है।

उन्होंने कहा, ‘‘यह कहना कि एक व्यक्ति जो इस तरह के शर्मनाक हरकत (सेक्स क्लिप) में पकड़ा गया है, उसमें सरदार पटेल का डीएनए है, तो यह उनका अपमान है। कांग्रेस में सरदार पटेल का अपमान करने की परम्परा रही है और यह गुजरात के साथ ही देश का भी अपमान है।’’ सरदार पटेल के प्रपौत्र समीर पटेल ने भी गोहिल की टिप्पणी को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा, ‘‘यह कहना बकवास है कि हार्दिक पटेल में सरदार पटेल का डीएनए है क्योंकि सरदार पटेल ने देश को जोड़ने का काम किया था जबकि हार्दिक देश को बांट रहे हैं।’’

कोई जवाब दें