Anandpal Singh grandmother

जयपुर। आनन्दपाल सिंह की दादी सोहन कंवर का निधन हो गया है। एक सौ छह वर्षीय सोहन कंवर का गुरुवार को उनके पैतृक गांव सांवराद में अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। उधर, सोहन कंवर के दाह संस्कार और धार्मिक रीति रिवाज के चलते आनन्दपाल सिंह के भाई मंजीत पाल सिंह कोर्ट में जमानत अर्जी लगा सकते हैं।

गौरतलब है कि पिछले साल 24 जून को चुरु के मालासर गांव में श्रवण सिंह के फार्म हाउस में ठहरे आनन्दपाल सिंह की सूचना पर एसओजी और राजस्थान पुलिस ने वहां दबिश दी थी। चारों तरफ घर की घेराबंदी होने पर पुलिस ने आनन्दपाल को सरेण्डर करने को कहा, लेकिन आत्मसमर्पण करने के बजाय आनन्दपाल ने पुलिस फोर्स पर फायरिंग कर दी। पुलिस की जवाबी फायरिंग में आनन्दपाल सिंह मारा गया। आनन्दपाल के परिजनों ने एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए कई दिनों तक शव का अंतिम संस्कार नहीं किया था। सांवराद में सभा के दौरान हिंसा के बाद पुलिस ने दखल देकर आनन्दपाल के शव का अंंतिम संस्कार करवाया।

कोई जवाब दें