diwali-cracker-Supreme Court-cracker sales order-neutralization-Delhi fireworks-pollution
diwali-cracker-Supreme Court-cracker sales order-neutralization-Delhi fireworks-pollution

नयी दिल्ली:दिवाली के जश्न में कल बड़ी तादाद में पटाखे जलाए जाने के बाद राजधानी दिल्ली की हवा अब जहरीली हो गई है। प्रदूषण का स्तर बताने वाला सरकारी ‘सिस्टम आफ एयर क्वालिटी फोरकास्टिंग एंड रिसर्च: सफर का चिन्ह गाढा भूरा हो गया है। यह इस बात का संकेत है कि शहर में वायु की गुणवत्ता ‘गंभीर’ हो गयी है । यह लोगों का स्वास्थ्य प्रभावित कर सकती है। खास तौर से श्वसन एवं हृदय संबंधी बीमारी वालों को यह अधिक प्रभावित करता है।

पीएम 2.5 तथा पीएम 10 का पिछले 24 घंटे का क्रमिक औसत क्रमश: 424 तथा 571 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर था जो इसकी सुरक्षित सीमा क्रमश: 60 तथा 100 से कई गुणा अधिक है । अमेरिकी दूतावास के प्रदूषण निगरानी सेंटर ने वायु की गुणवत्ता को 878 सूचकांक के साथ ‘खतरनाक’ रिकार्ड किया है। इसके बारे में दूतावास का मानना है कि यह ‘वायु गुणवत्ता सूचकांक 500 ’’ से बहुत आगे है।

लेकिन पिछले अन्य सालों की अपेक्षा इस साल दीपावली से पहले का त्यौहारी मौसम अधिक साफ सुथरा था ।
दीपावली की शाम अपेक्षाकृत काफी शांत थी और ऐसा लग रहा था कि दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में पटाखों की बिक्री पर सर्वोच्च न्यायालय का प्रतिबंध काम कर गया है।

कोई जवाब दें