kalayugee
murder

जयपुर। राजस्थान के अलवर स्थित शाहजहांपुर कस्बे में गुरुवार को एक अमानवीय वारदात सामने आई है। पारिवारिक रिश्तों को धूमिल करने वाली इस घटना में हमलावर ने अपने छोटे भाई की पत्नी उषा राजपूत की धारदार तलवार से तब हत्या कर दी, जब वह काम के लिए फैक्ट्री जा रही थी। शाहजहांपुर अण्डरपास पर हमलावर मामराज ने उसे रोका और फिर गाली-गलौच करते हुए तलवार से हमला कर दिया।

अचानक हुए इस हमले को उषा ने अपने हाथ पर लिया, लेकिन फिर मामराज ने ताबडतोड हमले जारी रखे, जिससे उसके हाथ व शरीर के दूसरे हिस्सों पर गंभीर चोट आई। हमलों से जैसे ही वह जमीन पर गिरी तो उसने गरदन व चेहरे पर हमले करता रहा। जब वह तलवार से हमला कर रहा था, तब बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे, लेकिन किसी ने भी हमलावर को रोकने की कोशिस नहीं की और ना ही हमलावर को भगाने का प्रयास किया।

मामराज उषा पर तब तक हमला करता रहा, जब तक वह मर नहीं गई और उसकी गर्दन कटकर शरीर से अलग ना हो गई। उसकी हत्या के बाद वह तलवार लेकर वहां फरार हो गया। लोग उसके पीछे लगे तो नंगी तलवार दिखाकर उनके पीछे भागा। पुलिस के आने के बाद लोग और पुलिसकर्मी उसकी तलाश में खेतों व कारखानों में उसकी तलाश कर रहे हैं। उषा की मर्डर की सुनकर उसका पति व बेटी व दूसरे परिजन मौके पर पहुंचे। इस घटना से पूरे क्षेत्र में दहशत फैल गई है। सैकड़ों लोग हमलावर की तलाश में जुटे हुए हैं।

कोई जवाब दें