black water, development, changed story, cm Vasundhara Raje, kota
black water, development, changed story, cm Vasundhara Raje, kota

-मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का पीपल्दा विधानसभा क्षेत्र में जनसंवाद
जयपुर। पहले पीपल्दा विधानसभा क्षेत्र में आना काले पानी की सजा की तरह था। कोई भी यहां आना नहीं चाहता था। किसी अधिकारी-कर्मचारी की पोस्टिंग यहां होती थी तो वह जल्द से जल्द यहां से जाना चाहता था, लेकिन पिछले साढ़े चार साल में इस क्षेत्र में विकास की जो गंगा बही है, उससे यहां की तस्वीर और यहां के लिए लोगों की सोच पूरी तरह बदल गई है।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से कोटा के इटावा में पीपल्दा विधानसभा क्षेत्र के जनसंवाद के दौरान लोगों ने इस तरह के विचार व्यक्त किए। लोगों ने कहा कि उन्हें ऐसी उम्मीद नहीं थी कि मात्र साढ़े चार वर्ष में उनके क्षेत्र में सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, विद्युत सहित अन्य सुविधाओं का इतना बेहतरीन विकास होगा। यह सब राज्य सरकार की समग्र विकास की सोच से ही संभव हुआ है। पीपल्दा क्षेत्र के लोगों ने इस अभूतपूर्व विकास के लिए मुख्यमंत्री का बारम्बार आभार व्यक्त किया। राजे ने कहा कि हमारी सरकार ने हर क्षेत्र के विकास के लिए जो काम हाथ में लिए थे, वो अब धरातल पर नजर आ रहे हैं। विकास के इन कामों का फायदा आने वाले समय में और अधिक देखने को मिलेगा। जैसे-जैसे हमारी बड़ी परियोजनाएं पूरी होती जाएंगी, वैसे-वैसे नए राजस्थान की सूरत सामने आती जाएगी। हम ऐसा समृद्ध और विकसित राजस्थान आपको देना चाहते हैं, जिसका हम दशकों से सपना देख रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पीपल्दा विधानसभा क्षेत्र की तस्वीर बदलने के लिए पिछले साढ़े 4 वर्ष में 1573 करोड़ रुपए के विकास कार्य स्वीकृत किए गए, जबकि पिछली सरकार ने अपने पूरे कार्यकाल में 360 करोड़ रूपए ही व्यय किए थे। हमने इटावा में नया राजकीय महाविद्यालय स्थापित करने के साथ-साथ परवन-अकावद पेयजल परियोजना और हरिपुरा मांझी पेयजल योजना की स्वीकृति जारी की है। उन्होंने कहा कि राज्य राजमार्ग योजना के तहत 121 करोड़ रुपए की लागत से गैंता माखीदा पुलिया के लिए सड़क निर्माण कार्य चल रहा है। साथ ही, कोटड़ादीप सिंह, रेलगांव, लुहावद, गैंता, डूंगरली, सनमानपुरा में 33 केवी क्षमता के सब स्टेशन स्थापित किए गए हैं। राजे ने कहा कि ग्रामीण गौरव पथ योजना के तहत 21 करोड़ रुपए की लागत से 27 किमी से अधिक लंबाई की 30 सड़कों के कार्य पूरे करवाए हैं। वहीं 7 करोड़ रुपए की लागत से 12 किमी के मिसिंग लिंक सड़कों के कार्य पूरे हो चुके हैं। आरआईडीएफ में साढ़े 27 करोड़ रुपए की लागत से 96 किमी लंबी 27 सड़कों का नवीनीकरण हो चुका है। 9 हजार 830 परिवारों को घरेलू बिजली कनेक्शन और 753 कृषि कनेक्शन भी जारी किए गए हैं। उन्होंने कहा कि यहां 70 आदर्श एवं 41 उत्कृष्ट विद्यालय स्थापित किए गए हैं। साथ ही 4 आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र विकसित किए गए हैं।

राजे ने जनसंवाद से पहले पीपल्दा विधानसभा क्षेत्र के निवासियों को 210 करोड़ रुपए से अधिक की नौ परियोजनाओं की सौगात दी। उन्होंने 37 करोड़ रुपए की लागत से तैयार मंडावरा-बड़ोद-पटपड़ा सड़क, 43 करोड़ रुपए से अधिक लागत वाली इटावा-अयाना स्टेट हाईवे पर सीसी सड़क, 50 करोड़ रूपए से निर्मित इटावा-खातोली सीसी सड़क तथा लगभग 10 करोड़ रुपए से निर्मित राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान इटावा के भवन का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने जटवाड़ी में 1 करोड़ रुपए की लागत वाले नए ग्रिड सब स्टेशन, लगभग 20 करोड़ रुपए लागत से इटावा-गैंता और लगभग 40 करोड़ रुपए की लागत से खातोली-केथूदा सीसी सड़कों एवं पेवमेंट कार्यों का शिलान्यास भी किया। उन्होंने 5 करोड़ रुपए की लागत से पीपल्दा विधानसभा क्षेत्र में 15 किमी लंबी नई सड़कों और 4 करोड़ रुपए से अधिक की लागत वाले नए ग्रामीण गौरव पथ निर्माण कार्यों का भी शिलान्यास किया।
जनसंवाद कार्यक्रम से पहले राजे ने आस-पास के स्थानों से आए आमजन के अभाव अभियोग सुने। इसके बाद उन्होंने श्रमिक कल्याण योजनाओं, राजश्री योजना, पालनहार योजना, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, उज्ज्वला योजना सहित अन्य योजनाओं के लाभार्थियों को चैक एवं स्वीकृति पत्र प्रदान किए। इस दौरान उन्होंने मेधावी विद्यार्थियों को लैपटॉप, स्कूटी एवं दिव्यांगों को उपकरण वितरित किए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने क्षेत्र के स्कूलों में शत-प्रतिशत परिणाम देने वाले शिक्षकों से भी मुलाकात की।

कोई जवाब दें