Ruma Devi Badmer, woman power prize
Ruma Devi Badmer, woman power prize

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करेगे सम्मानित
बाडमेर. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सीमावर्ती जिले बाडमेर की रूमा देवी विश्व महिला दिवस पर आज 8 मार्च को नारी शक्ति पुरूस्कार से सम्मानित करेगे। यह पुरूस्कार ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान की अध्य़क्ष रूमा देवी को हस्तशिल्प के क्षेत्र व महिला सशक्तिकरण में उल्लेखनीय असाधारण उपलब्धियों के फलस्वरूप प्रदान किया जायेगा । कार्यक्रम का आयोजन महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा किया जायेगा।

रूमा देवी ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान की अध्य़क्ष व कुशल हस्तशिल्पी है, जिन्होने ग्रामीण क्षैत्रों की महिलाओं को रोजगार से जोडने के साथ हस्तशिल्प के काम कों पहचान दिलाने के लिये देश-विदेश मे निरन्तर फैशन शो प्रदर्शनियों मे भाग लेकर सबकी प्रेरणा स्त्रोत बनी । मात्र आठवी तक स्कूली शिक्षा ग्रहण कर पाई रूमा देवी विपरित परिस्थितियों के बावजूद संघर्ष कर कई राष्ट्रीय व अतंराष्ट्रीय पुरूस्कारों व सम्मानों को प्राप्त कर चुकी है।

विश्व महिला दिवस 8 मार्च पर पूना मे आई वूमन ग्लोबल अवार्ड 2019 प्रदान किया जायेगा । वही जयपुर मे महिला दिवस पर आयोजित सम्मान नारीत्व का जिसमे महिला गौरव सम्मान 2019 से सम्मानित किया जाएगा।
यह दोनो सम्मान रूमादेवी व ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान के नेतृत्व मे संस्थान की महिला हस्तशिल्पी प्रतिनिधिमंडल को आज महिला दिवस पर सम्मान प्रदान किया जायेगा।
बाडमेर के छोटे से गांव रावतसर से तालुक रखने वाली रूमादेवी ने अपनी दादी व नानी से कशीदाकरी के कार्य को सीखा व सात समंदर पार बाडमेर की कला को पहचान दिलाई । एक सामान्य परिवार की आठवी कक्षा उतीर्ण महिला रूमादेवी 30 वर्ष की उम्र मे आज राष्ट्रपति के हाथो नारी शक्ति पुरूस्कार से राष्ट्रपति भवन नई दिल्ली में “सर्वोच्च नारी शक्ति“ पुरूस्कार से सम्मानित होगी। रूमादेवी ने 2010 मे कपडे के ऊपर अपने हुनर के माध्यम से कशीदे व कढाई का काम शुरू किया। फिर एक छोटे से सहायता समूह मे अपनी छोटी बचत के माध्यम से पुरानी खरीदी गई सिलाई मशीन से रोजगार मे जुटी. 22 हजार महिला कों जोडकर वर्तमान मे उन्हें अपने हुनर और लगन के साथ रोजगार प्रदान कर रही है।

कोई जवाब दें