Asia CUP

नई दिल्ली: भारतीय महिला हाकी टीम ने अपनी शानदार फार्म जारी रखते हुए सभी विभाग में बेहतरीन प्रदर्शन करके आज यहां एशिया कप हाकी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में गत चैम्पियन जापान को 4-2 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। गुरजीत कौर ने सातवें और नौंवें मिनट में, नवजोत कौर ने नौंवे और लालरेमसियामी ने 38वें मिनट में गोल दागकर रविवार के फाइनल में जगह बनायी, जहां उनकी भिड़ंत चीन से होगी। भारत ने इससे पहले टूर्नामेंट के लीग चरण में चीन को 4-1 से मात दी थी।

जापान के खिलाफ भारत ने लगातार पेनल्टी कार्नर हासिल कर मेजबान देश पर दबाव बना दिया। ड्रैगफ्लिकर गुरजीत कौर ने सातवें मिनट में जापान की गोलकीपर अकियो तनाका को चौंकाकर टीम को 1-0 से आगे कर दिया। दो मिनट बाद ही नवजोत कौर ने फारवर्ड वंदना कटारिया की मदद से शानदार मैदानी गोल कर भारत की बढ़त दोगुनी कर दी।तुरंत बाद ही भारत ने पेनल्टी कार्नर हासिल किया और गुरजीत ने फिर सही लक्ष्य साधकर भारत को 3-0 से आगे कर दिया। भारत ने पहले क्वार्टर में एक और पेनल्टी कार्नर हासिल कया लेकिन इस बार तनाका ने अच्छा बचाव किया। पहले 15 मिनट भारत के लिये अच्छे रहे जबकि गत चैम्पियन ने दूसरे क्वार्टर में अच्छी वापसी की।

जापान ने भारतीय डिफेंस में सधे हुए हमले किये और शिहो सुजी ने भारतीय गोलकीपर सविता को पछाड़ते हुए 17वें मिनट में गोल कर दिया। अगले ही मिनट में जापान की खिलाड़ियों ने भारतीय डिफेंस की परीक्षा ली और युई इशिबाशी ने 28वें मिनट में मैदानी गोल कर करके स्कोर 2-3 कर दिया। इसके बाद भारतीय खिलाड़ियों को सतर्कता से खेलने की जरूरत थी और हाफटाइम में 10 मिनट के ब्रेक के बाद उन्होंने ऐसा ही किया। सविता ने शानदार बचाव कर जापान को तीसरे क्वार्टर के शुरू में पेनल्टी कार्नर पर गोल नहीं करने दिया। लालरेमसियामी ने 38वें मिनट में बेहतरीन मैदानी गोल करके भारत को 4-2 से बढ़त दिला दी जो अंत तक इतना ही रहा, हालांकि जापान ने दो पेनल्टी कार्नर हासिल किये लेकिन सविता उनके सामने डटी रही।

कोई जवाब दें