jaipur.प्रयागराज कुंभ में कल मौनी अमावस्‍या के अवसर पर तीसरा स्‍नान महोत्‍सव सम्‍पन्‍न हुआ। इस महोत्‍सव में बड़ी संख्‍या में श्रद्धालु शामिल हुए और मध्‍य रात्रि तक स्‍नान में शामिल होते रहे। कल अखाड़ों का दूसरा शाही स्‍नान भी सम्‍पन्‍न हुआ। सबसे पहले, महानिर्वानी अखाड़े के संतों और मुनियों और अटल अखाड़ा के संन्‍यासियों ने पवित्र शाही स्‍नान के दौरान डुबकी लगाई। बैरागी समुदाय के निर्मल अखाड़े के शाही स्‍नान के साथ इसका समापन हुआ।

यह महोत्‍सव शांतिपूर्वक सम्‍पन्‍न हुआ। अखाड़ों के जुलूस के रूटों और स्‍नानघाटों पर व्‍यापक सुरक्षा व्‍यवस्‍था लागू की गई थी। मौनी अमावस्‍या के अवसर पर श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए बड़ी संख्‍या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया था, जिनमें केन्‍द्रीय अर्द्धसैन्‍य बलों की 37 कंपनियां, पीएसी की 20 कंपनियां, अन्‍य राज्‍यों के पुलिस बल और एनएसजी, एटीएफ, एसटीएफ शामिल हैं। सभी संवेदनशील स्‍थानों और स्‍नान घाटों पर सुरक्षाबल तैनात किये गये थे।

संगम की ओर जाने वाले श्रद्धालुओं को भोजन और नाश्‍ता उपलब्‍ध कराने के लिए स्‍थानीय निवासियों की ओर से कई स्‍थानों पर लंगर स्‍थापित किये गये थे।प्रयागराज में 10 फरवरी यानी वसंत पंचमी को अगला स्‍नान महोत्‍सव सम्‍पन्‍न होगा। अखाड़ों का अंतिम शाही स्‍नान भी उसी अवसर पर सम्‍पन्‍न होगा।

कोई जवाब दें