Ram Rahim

हाईकोर्ट ने जांच अधिकारी को तलब कर 8 नवंबर को मांगी प्रगति रिपोर्ट
जयपुर। सिरसा के डेरा सच्चा सौदा से लापता हुई विवाहिता को लेकर राजस्थान हाईकोर्ट में न्यायाधीश महेंद्र माहेश्वरी की एकलपीठ ने गुरमित रामरहीम सहित अन्य के खिलाफ दर्ज प्रकरण में जांच अधिकारी को 8 नवंबर को हाजिर होकर प्रगति रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए हैं।

इस संबंध में कमलेश कुमार ने हाईकोर्ट में आपराधिक याचिका दायर कर रखी है। याचिकाकर्ता के वकील बाबूलाल बैरवा एवं गिरिराज प्रसाद बैरवा ने हाईकोर्ट को बताया कि कमलेश की पत्नी गुड्डी देवी 24 मार्च 2015 को रामरहीम के डेरे पर गई थी। वहां से वह 28 मार्च को लापता हो गई। प्रकरण को लेकर 8 मई 2015 को रामरहीम व डीपीएस दत्ता के खिलाफ जवाहर सर्किल थाने में मामला दर्ज कराया गया। जिस पर पुलिस ने मार्च 2016 में एफआर लगा दी। ट्रायल कोर्ट ने प्रोटेस्ट पिटिशन पर सुनवाई कर एफआर नामंजूर करते हुए पुलिस को एक माह में जांच पूरी करने के आदेश दिए थ्ो। लेकिन आदेश के बावजूद भी पुलिस ने अब तक कोई जांच नहीं की है। यहां तक की पीडित के बयान तक नहीं लिए गए। पुलिस की आरोपियों के साथ मिलीभगत होने एवं राजनीतिक दबाव के कारण मामले में कोई जांच नहीं हो पा रही है। मामले की जांच सीबीआई या सीआईडी सीबी से कराई जाए।

कोई जवाब दें