datti mahraj rapr case
datti mahraj rapr case

जयपुर। शिष्या से दुष्कर्म मामले में फंसे शनिधाम महंत दाती मदन महाराज की मुश्किलें कम नहीं हो रही है। दिल्ली क्राइम ब्रांच की कार्रवाई के साथ ही महिला आयोग राजस्थान भी दाती महाराज के आश्रम की जांच में जुट गई है। महिला आयोग की तीन सदस्यीय टीम आज सुबह आलावास आश्रम पहुंची। टीम सदस्य ने आश्रम में पढ़ाई कर रही बालिकाओं से बातचीत की, साथ ही उनसे आश्रम में सुरक्षा, खान-पान और दूसरी सुविधाओं को लेकर बयान लिए। साथ ही आश्रम संचालक से भी बालिकाओं की सुविधाओं के बारे में पूछताछ की।

टीम सदस्यों ने बालिकाओं के रजिस्ट्रेशन की जानकारी ली। बालिकाओं से किसी तरह की शारीरिक, मानसिक व अन्य परेशानियों के बारे में भी सवाल-जवाब किए। महिला टीम की सदस्यों ने आश्रम संचालकों से कुछ सालों में बालिकाओं के आश्रम छोड़ने, उनकी शिकायतों के बारे में भी पूछताछ की और ऐसी बालिकाओं के घर-परिवार की जानकारी प्राप्त की। सदस्यों ने बालिकाओं के आश्रम छोड़ने को लेकर सेवादारों व बालिकाओं से भी जानकारी प्राप्त की। सदस्यों ने बालिकाओं से कहा कि अगर उन्हें किसी भी तरह कोई परेशानी या प्रताड़ना की जाती है तो उस बारे में बताए।

गौरतलब है कि आलावास आाश्रम में पली और पढ़ी एक शिष्या ने दाती महाराज व उनके खास सेवादारों पर कई बार दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। शिष्या ने कहा है कि शनिधाम मंदिर दिल्ली और आलावास आश्रम में उससे कई बार रेप किया। मामले में जांच कर रही दिल्ली क्राइम ब्रांच दोनों स्थानों पर पीडिता के साथ मौका मुआयना कर चुकी है। दाती महाराज और उनके भाई से भी दिल्ली पुलिस कई घंटे तक दुष्कर्म केस को लेकर पूछताछ कर चुकी है।

कोई जवाब दें